Wednesday, October 5, 2022
spot_img

जिहाद का गढ़ झारखण्ड

जिहाद झारखण्ड में आँधी की तरह चल रहा है। वहाँ जिहादियों पर अंकुश लगाने वाला कोई नहीं। हेमन्त सोरेन दुष्टिकरण की राह पर चल रहा है। वही दुष्टिकरण जो कांग्रेस ने सबको सिखाया। अब तो दुष्टिकरण में कांग्रेस के बाप पैदा हो चुके हैं। ऐसा ही एक बाप ‘आप’ है । दूसरे बाप सपा और बसपा हैं। भाजपा को छोड़ कर सभी इस मामले में कांग्रेस के बाप बन चुके हैं। ऐसा नहीं कि भाजपा पाक साफ है। धीरे-धीरे भाजपा भी इसी राह पर चलने की की जुगत में है। बल्कि इस राह पर निकल चुकी है। नूपुर शर्मा और टी राजा सिंह को पार्टी से निकालना इस दावे के प्रमाण हैं। भले ही भाजपा यह नहीं समझ पा रही है कि वह भी दुष्टिकरण की राह पर निकल चुकी है। नूपुर शर्मा और टी राजा सिंह को पार्टी से कान पकड़ कर बाहर कर देना जिहादियों को खुश करने जैसा है। पूरे संसार के जिहादियों को बूस्टर की डोज देने जैसा है। देश कितना ही प्रगति कर ले अगर जिहाद को खत्म नहीं किया गया तो प्रगति किसी काम की नहीं है। सारी की सारी प्रगति धरी की धरी रह जाएगी। अभी भी समय है कि हम चेत जाएं। क्योंकि राष्ट्र का सवाल है। इससे कम का नहीं। झारखण्ड में जिहाद बारह दिशाओं में काम कर रहा है। अगर यही रफ्तार रही तो वहाँ के सारे आदिवासी एक दिन जालीदार टोपी पहने नजर आएंगे और देशभक्त हिन्दुओं को ठोकेंगे। रही हेमन्त सोरेन की बात। यह देश हेमन्त सोरेन का नहीं है। केन्द्र का गृह मंत्रालय झारखण्ड में तूफान बन चुके जिहाद पर रिपोर्ट तैयार करे और पूरे देश को बताए। हम पूरा का पूरा सच जानना चाहते हैं। क्योंकि हम पब्लिक हैं। हम से राष्ट्र बना है। जिहाद बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जिहाद की कमर तोड़नी होगी। अन्यथा जिहाद भारत की कमर तोड़ देगा। इस समय देश में जो मुगल काल चल रहा है यह तत्काल रोक दिया जाना चाहिए। यह राष्ट्र हिन्दुओं का है। हिन्दुओं का ही रहेगा। हाँ, यहाँ विधवत रह रहे सभी लोगों का सम्मान है। मुसलमान घुसपैठियों को इस देश से बाहर खदेड़ दिया जाना चाहिए। ये घुसपैठिये भी जिहाद कर रहे हैं पूरे देश में। झारखण्ड के पलामू से लगभग 40 हिन्दू परिवारों को जिहादियों ने उजाड़ दिया। रातोरात वह जमीन मदरसे की हो गई। इस तरह के जमीन जिहाद के विरूद्ध केन्द्र को एक्शन लेना पड़ेगा। कानूनों में बदलाव करने पड़ेंगे। अगर इस देश को इस्लामी राष्ट्र बनाना है तो चलने दो जैसा चल रहा है। मगर, ऐसा नहीं करना चाहते तो सख्त कानून बनाइये। जरूरत पड़ने पर सेना से उपद्रवियोें और जिहादियों को ठुकवाइए अगर ये ऐसे अच्छे कानूनों का विरोध करें तो। वोट के चक्कर में देश को बर्बाद मत कीजिए।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,514FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles